आत्मनिर्भर भारत अभियान( ONLINE Registration,एप्लीकेशन Form,Package 20 Lakh Crore,लाभ व पात्रता :-

आत्मनिर्भर भारत अभियान ONLINE Registration,एप्लीकेशन Form,लाभ व पात्रता :- जैसा कि आप जानते हैं  पूरे देश में कोरोना महामारी जैसी समस्या आई हुई है माननीय प्रधानमंत्री जी ने 22 मई 2020 को आत्मनिर्भर अभियान योजना की घोषणा की है केंद्र सरकार ने इन समस्याओं से निपटने के लिए नागरिकों के लिए 20 लाख करोड रुपए से अधिक के पैकेज जारी किए हुए हैं  लॉकडाउन की वजह से देश के मजदूरों और किसान  बहुत प्रभावित हुए हैं | 

नरेंद्र मोदी  सरकार ने पीएम गरीब कल्याण योजना के तहत1.70 लाखों रुपए का रिलीफ पैकेज अनाउंस किया था जो कि बहुत ही कम था पर इस  बार सरकार ने लोक डाउन के नुकसान को देखते हुए काफी बड़े पैकेज की अनाउंसमेंट की है और सरकार समय-समय पर हर क्षेत्र में इन पेजों को जरूरत के हिसाब से लॉन्च करती रही

Table of Contents

 आत्मनिर्भर भारत अभियान योजना 2022 :-

केंद्र सरकार ने देश में आए हुए कॉविड-19 महामारी जैसे आर्थिक संकट से देश को निकालने के लिए आत्म निर्भर भारत अभियान आरंभ किया था इस योजना को चलाने का मुख्य उद्देश्य कोविड-19 के चलते छोटे उद्योगों, मजदूर, किसानों, श्रमिक को बहुत नुकसान झेलना पड़ा इस योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा चुने गए सभी लाभार्थियों को आर्थिक सहायता दी जाएगी जिससे कि सभी लोगों की मदद की जाए और आत्मनिर्भर योजना के अंतर्गत सभी प्राइवेट सेक्टर को भी मदद की जाएगी

 आत्मनिर्भर भारत अभियान 1.0 कि इतनी बड़ी सफलता के बाद केंद्र सरकार द्वारा आत्मनिर्भर भारत अभियान 2.0  तथा आत्मनिर्भर भारत अभियान 3.0 शुरू किया गया है

आत्मनिर्भर भारत अभियान का उद्देश्य

 माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने इस योजना को 12 मई 2020 को चलाया जिससे कि 130 करोड़ लोग आत्मनिर्भर हो  और हम कोविड-19 जैसी महामारी वायरस से लड़ने में सक्षम हो जाए इस वायरस से बहुत नुकसान हुआ लोग डाउन की वजह से देश के मजदूरों और किसान बहुत प्रभावित हुए उनकी आर्थिक स्थिति और नीचे चली गई इन सभी समस्याओं को देखते हुए सरकार ने 20 लाख करोड़ का राहत पैकेज घोषित किया है जो देश की जीडीपी का 10% है जूना भारती इस योजना में आवेदन करेंगे केंद्र सरकार द्वारा उनके खाते में राशि पहुंचा दी जाएगी यह योजना भारत के आर्थिक व्यवस्था को सुचारू करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा 

Atmanirbhar 3.0) आत्मनिर्भर भारत अभियान 3.0: ऑनलाइन आवेदन पैकेज लाभ

Aatm Nirbhar Bharat Yojana Highlights :-

🔥 योजना का नाम
आर्थिक पैकेज आत्मनिर्भर भारत अभियान
🔥 शुरू किया गया
प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा
🔥 राज्य
केंद्रीय स्तर की योजना (सभी राज्य में लागू )
🔥 उद्देश्य
देश का प्रत्येक जरूरतमंद नागरिक , भारत को आत्मनिर्भर, समृद्ध ,संपन्न बनाना
🔥 आरंभ की गई
12/05/2020
🔥 आर्थिक पैकेज की राशि
20 लाख करोड़ रुपए
🔥 आधिकारिक वेबसाइट
Pmindia.Gov.In
🔥 मुख्य लाभ
किसान, श्रमिक, छोटे व्यापारी, मझले व्यापारी , MSME

आत्मनिर्भर भारत अभियान योजना 2021-22 वित्तीय बजट घोषणा

वित्त मंत्री जी के द्वारा 1 फरवरी 2021 को वित्तीय वर्ष बजट की घोषणा की गई है जिसमें मुख्य रूप से आत्मनिर्भर योजना के बारे में चर्चा की गई करुणा काल के समय में देश की अर्थव्यवस्था को मजबूती प्रदान करने के लिए केंद्र सरकार द्वारा योजना का आरंभ किया गया भारत सरकार एवं रिजर्व बैंक द्वारा आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत 27.1 लाखों रुपए का निवेश किया गया है जो देश की जीडीपी में 13% का योगदान देती है इस योजना के तहत भारत के किसान मजदूर वर्ग कि आज स्तर को ऊंचा करने के लिए महिला सशक्तिकरण सुशासन और अन्य सभी विकास के कार्यों पर बल दिया जाएगा

आत्मनिर्भर भारत अभियान योजना1.0 के अंतर्गत योजनाएं

  •  किसान क्रेडिट कार्ड योजना
  •  ईसीएल जीएस (eclgs)1.0
  • वन नेशन वन राशन कार्ड
  •  इमरजेंसी वर्किंग कैपिटल फंडिंग
  •  प्रधानमंत्री स्व निधि योजना
  • स्पेशल लिक्विडिटी स्कीम फॉर एनबीएफसी/ अजब सी

 आत्मनिर्भर भारत अभियान2.0 के अंतर्गत लांच योजनाएं

  •  एलटीसी कैश वाउचर स्कीम
  •  फेस्टिवल एडवांस
  •  पार्शियल क्रेडिट गारंटी स्कीम2.0
  •  एडिशनल कैपिटल एक्सपेंडिचर

 आत्मनिर्भर भारत अभियान योजना 2022 (3.0 लॉन्च योजना)

 योजना को तीन चरणों में शामिल किया गया है सरकार द्वारा3.0 को लांच किया गया है तीसरे पैकेज के अंतर्गत 12 स्कीम को शुरू किया गया 

आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना स्टैटिसटिक्स :-

प्रतिपूर्ण की गई राशि Rs 3457.08 crore
लाभवंती हुए प्रतिष्ठान 1,27,348
लाभार्थियों की संख्या 47,04,338

आत्मनिर्भर  भारत अभियान के लाभार्थी

  • किसान
  •  गरीब नागरिक
  •  लघु उद्योग
  •  प्रवासी मजदूर
  •  मध्यवर्गीय उद्योग
  •  पशुपालक
  •  मछुआरे
  •  कुटीर उद्योग में काम करने वाले नागरिक/ मजदूर
  •  संगठित क्षेत्र में असंगठित क्षेत्र में कार्य करने वाले व्यक्ति

आत्मनिर्भर योजना अभियान राहत पैकेज का लाभ ?

  • फैक्ट्री से जुड़े 3.8 करोड लोगों को इस योजना का लाभ मिलेगा
  • टेक्सटाइल इंडस्ट्री से जुड़े4.5 करोड़ लोगों को आर्थिक मदद दी जाएगी
  •  एम एस एम ई(MSME) से जुड़े11 करोड़ लोगों को फायदा
  •  इस योजना से भारत के 10 करोड़ मजदूरों को लाभ प्राप्त होगा यह योजना लघु उद्योग. कुटीर उद्योग. गृह उद्योग के लिए है  जिन
  • से करोड़ों लोगों को रोजगार मिलता है
  • आर्थिक राहत पैकेज में गरीब मजदूर, तथा  इंडस्ट्री से जुड़े लोगों को फायदा होगा

आत्मनिर्भर भारत ऐप  :-

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा लिंकडइन के पोस्ट को साझा करते हुए 4 जुलाई 2020 को ट्वीट कर @GoI_MeitY और @AIMtoInnovate आत्मनिर्भर भारत एप इन्नोवेशन चैलेंज को लॉन्च किया गया । वैसे आत्मनिर्भर भारत ऐप को आत्मनिर्भर भारत मिशन के तहत स्टार्टअप और टेककम्युनिटी की मदद करने के लिए लांच किया गया है ।

इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री श्री रवि शंकर प्रसाद के द्वारा ट्वीट किया कि प्रधानमंत्री ने भारतीय ऐप निर्माताओं के निवेशको को प्रोत्साहित के लिए इस ऐप को शुरू किया है । आत्मनिर्भर भारत ऐप की मदद से देश के युवाओं को आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया जाएगा मोदी जी ने कहा कि भारत में एक गतिशील प्रौद्योगिकी और स्टार्टअप परिस्थितिक तंत्र है जिसने भारत को राष्ट्रीय ही नहीं अंतरराष्ट्रीय स्थल पर गौरवान्वित किया है ।

आत्मनिर्भर भारत अभियान ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

 आत्मनिर्भर की  अधिकारिक वेबसाइट  शुरू कर दी गई है आम नागरिक खुद  का ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं  ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करने के लिए आप नीचे दिए हो कुछ टिप्स को फॉलो कर सकते हैं

  •  सबसे पहले उम्मीदवार आत्मनिर्भर भारत अभियान योजना की ऑफिशियल वेबसाइट aatmanirbharbharat.mygov.in पर जाएं 
  •  अब आप की  स्क्रीन पर होम पेज खुल जाएगा
  •  होम पेज  पर  रजिस्ट्रेशन के लिंक पर क्लिक करना होगा
  •  आपकी स्क्रीन पर रजिस्ट्रेशनकरने के लिए आवेदन फॉर्म खुल जाएगा
  •  आपको  फोरम में अपना नाम, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी, जन्मतिथि, और  लिंग को भरना होगा
  •  उसके बाद क्रिएट अकाउंट के लिंक पर क्लिक करें
  •  अब आप नए पेज पर आ जाएंगे आपको इस पेज में रजिस्टर मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी आएगा जिसमें आपको ओटीपी दर्ज करना होगा
  •  ओटीपी दर्ज करते ही मोबाइल नंबर का सत्यापन हो जाएगा
  •  आपके द्वारा दी गई  ईमेल पर आपकीआईडी और पासवर्ड आ जाएगा इस प्रकार आपका रजिस्ट्रेशन पूरा हो जाएगा

Aatmanirbhar Bharat New Update

देश में कोरोनावायरस से लॉकडाउन के कारण बहुत सारी दुकाने लगभग सभी दुकानें बंद है । इस मंदी की मार सबसे ज्यादा छोटे और मध्यम वर्ग के दुकानदारों को हुआ है छोटे वर्ग के दुकानदार जैसे मोची, पान की दुकान ,धोबी की दुकान , रेहड़ी पटरी पर काम करने वाले व्यक्ति, सड़क के किनारे सब्जी लगाने वाले दुकान, फल बेचने वाले दुकान इत्यादि पर सबसे अधिक असर इस बंदी का पड़ा है । और इनकी इस समस्या को दूर करने के लिए प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा आत्मनिर्भर भारत योजना के तहत एक नई घोषणा कर एक नए नाम से योजना शुरू की गई जिसका नाम रखा गया । पीएम स्वनिधि योजना के तहत सरकार रेहड़ी और पटरी पर काम करने वाले दुकानदारों को ₹10000 तक का लोन मुहैया कराएगी इस योजना के तहत अल्पकालीन सहायता के रूप में ₹10000 छोटे सड़क विक्रेताओं को अपना काम फिर से शुरू करने के लिए लोन के रूप में दिया जाएगा जिससे भारत की गतिविधि और आर्थिक स्थिति ऊपर आ सके साथ ही सभी बंद पड़े हुए काम पुनः शुरू हो सके ।

 आत्मनिर्भर भारत अभियान योजना में लॉगिन कैसे करें

 इस योजना में लॉगिन करने के लिए आपके पास लॉगइन आईडी और पासवर्ड का होना जरूरी है आपके पास आईडी और पासवर्ड तभी आएगा जब आप रजिस्ट्रेशन कर लेंगे

  •  सबसे पहले उम्मीदवार आत्मनिर्भर योजना की आधिकारिक वेबसाइट aatmanirbharbharat.mygov.in पर जाएं
  •  उसके बाद आपकी स्क्रीन पर होम पेज खुल जाएगा 
  • हम पेज पर  लॉगइन के बटन पर क्लिक करना होगा
  •  अब आपकी स्क्रीन पर नया पेज खुल जाएगा
  •  जिसमें आप दो प्रकार से लॉगिन कर सकते हैं एक तो आईडी और पासवर्ड के माध्यम से दूसरा आप लॉगइन विद ओटीपी के माध्यम से लॉगिन कर सकते हैं
  •  लॉगइन विद ओटीपी करने के लिए आपको अपना ईमेल आईडी पर नहीं होगी आपके नंबर पर एक ओटीपी आएगा  ओटीपी नंबर डालकर और सबमिट बटन पर क्लिक कर

आत्मनिर्भर भारत अभियान के संकल्प

  •  कोविड-19 संकट का सामना करने के लिए सरकार दिन प्रतिदिन कुछ ना कुछ नहीं योजना का शुभारंभ करती है ताकि देश की आर्थिक स्थिति कमजोर ना हो और हमारा देश विकास की ओर बढ़े और विभिन्न वर्गों के साथ जोड़ा जाए देश के विकास  को गति मिले
  •  यह पीएम मोदी राहत पैकेज देश के गरीब श्रमिक नागरिकों के लिए है जो कार्य करके देश के विकास में मदद करते हैं
  •  इस योजना के अंतर्गत लघु  कुटीर उद्योग, मजदूर, किसान आदि पर विशेष ध्यान दिया जाएगा और उन्हें आजीविका के लिए आय का साधन प्राप्त होंगे

आत्मनिर्भर भारत अभियान राहत पैकेज के अंतर्गत महत्वपूर्ण क्षेत्र 

  • मेक इन इंडिया ( make in india mission )
  • निवेश को प्रेरित करना (Provide Good Investment Opportunities)
  • सरल और स्पष्ट नियम कानून (Rational Tax System)
  • नए व्यवसाय को प्रेरित करना (To Motivate New Business)
  • उत्तम आधारिक संरचना (Reformation Of Infrastructure)
  • समर्थ और संकल्पित मानवाधिकार ( Capable Human Resources)
  • बेहतर वित्तीय सेवा (A Good Financial System)
  • कृषि प्रणाली (Reformation Of Agricultural Supply Chain & System)

आत्मनिर्भर भारत अभियान योजना{FAQ}:-  अक्सर पूछे गए प्रश्न

1.आर्थिक पैकेज क्या है ?

 न्यू भारत पैकेज केंद्र सरकार के द्वारा मई 2020 को लांच किया गया यह 20 करोड रुपए का एक पैकेज जिसके तहत सरकार देश के लगभग जनसंख्या को लाभ देगी

2.आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना के लिए कितनी राशि आवंटित की गई है ?

 यह योजना 2020 से 23 की अवधि के लिए चालू की गई थी इस योजना के तहत अभी तक करीब21.42 लाख अभ्यार्थी के लिए902 करोड रुपए खर्च किए जा चुके हैं सरकार का लक्ष्य लाभार्थियों की संख्या 50 लाख तक पहुंचाना है

3.. किसान और श्रमिकों को आर्थिक पैकेज में क्या मिलेगा ?

  किसानों को प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत अधिक लाभ दिया जाएगा साथ ही सुमिको को मनरेगा योजना और प्रवासी मजदूर के तहत है वह अधिक लाभ और रोजगार दिया जाएगा

4.आत्मनिर्भर भारत अभियान योजना3.0 के अंतर्गत कौन सी योजनाएं शामिल की गई है ?

 3.0के अंतर्गत 12 योजनाओं को सम्मिलित किया गया है जिसमें हाउसिंग फॉर ऑल, बूस्ट फॉर रूरल एंप्लॉयमेंट, आरएंडी ग्राउंड फ्लोर कोविड-19 इंडियन वैक्सीन  डेवलपमेंट, इंडस्ट्रियल इंफ्रास्ट्रक्चर, पोस्ट फॉर प्रोजेक्ट एक्सपोर्ट, बूस्ट फॉर आत्मनिर्भर मैन्युफैक्चरिंग इत्यादि योजनाओं को शामिल किया है

5.आत्मनिर्भर भारत अभियान का उद्देश्य क्या है ?

 इस अभियान के तहत लोगों में जागृत आएगी और लाभार्थी को 8:00 अंदर दी जाएगी जिससे गरीब लोगों को किसी के आगे झुकना नहीं पड़ेगा योजना का उद्देश्य लॉकडाउन के कारण जितने भी मजदूर और किसानों को इस वजह से नुकसान हुआ उनकी भरपाई की जाए

Leave a Comment