ट्रेडिंग अकाउंट क्या होता है - trading account meaning in hindi

आज लोग एक इनकम पे निर्भर नहीं रहना चाहते है। इसलिए लोग अलग अलग इनकम स्रोत ढूंढ रहे है। क्युकी लोगो को आज समझ आ गया अगर एक इनकम पे निर्भर रहे तो काल वो जब चला जाये तो उनके पास इनकम के लिए और भी स्रोत है। 

तो मेरा कहने का मतलब लोग आज शेयर मार्किट, म्यूच्यूअल फण्ड, बांड आदि मे इन्वेस्ट करने मे इच्छा जाहिर कोर रहे है। उनको लगता है अगर अच्छे से रीसर्च करके इन इंस्ट्रूमेंट मे पैसा निवेश किया जाये तो उनको एक passive income मिल सकते है।

आज मेरा ये आर्टिकल उन लोगो लिए है जो स्टॉक मार्किट मे ट्रेडिंग करना चाहते है। इससे पहले मेने how to open demat and trading account in hindi और ट्रेडिंग कैसे कोरे ये दो आर्टिकल publish कोर चूका हूँ

आज मे बताऊंगा ट्रेडिंग अकाउंट क्या होता है, ट्रेडिंग अकाउंट कैसे काम करता है, ट्रेडिंग अकाउंट अलग से खोल सकते है क्या, ट्रेडिंग अकाउंट के फायदे क्या है इन सारे पॉइंट को कवर करेंगे इस आर्टिकल के जरिये

तो चलिए मे step by step सुरु करते है 

ट्रेडिंग अकाउंट क्या होता है - trading account meaning in hindi
trading account meaning in hindi


ट्रेडिंग अकाउंट क्या होता है (trading account meaning in hindi)


जब हम शेयर buy और sell करते है तो इसके लिए हम जिस के माध्यम से लेन-देन करते है उसको ही ट्रेडिंग अकाउंट कहलाते है। 

उदाहरण के लिए मान लीजे आप एक शेयर buy करते हो तो जो buy हुआ शेयर है वो आपके demate account मे आ जाता है लेकिन buy करते टाइम जो transaction होता है वो ट्रेडिंग अकाउंट के जरिये होता है।


ट्रेडिंग अकाउंट काम कैसे करते है


ट्रेडिंग अकाउंट आपके बैंक अकाउंट और Demat अकाउंट से लिंक होता है, ट्रेडिंग अकाउंट बैंक अकाउंट और Demat अकाउंट के बीच कड़ी की तरह काम करता है। 

उदाहरण के लिए मान लीजे आपके बैंक अकाउंट मे दो लाखस रूपया है और आपको एक कंपनी के दस शेयर खरीदना है, जिनकी मूल्य है बीस हज़ार रूपया। तो इसके लिए आपको अपने बैंक अकाउंट से बीस हज़ार रूपया आपके ट्रेडिंग अकाउंट मे transfer करना पड़ेगा। फिर उसके बाद ही आप उस दस शेयर की आर्डर को प्लेस कोर पाएंगे।

वही टाइम पे किसी दूसरा निवेशक को भी दस शेयर sell आर्डर प्लेस करना पड़ेगा, जब buy और sell match हो जाता है तो आपका आर्डर Execute हो जाता है। तो वही आपके ट्रेडिंग अकाउंट से बिस हाजार रूपया निकाल के जो seller है उसके ट्रेडिंग अकाउंट मे चला जाता है और seller के Demat अकाउंट से शेयर निकाल के आपके Demat अकाउंट मे transfer हो जाता है।

ये जो पूरा प्रक्रिया है इसको Execute होने मे T+2 DAYS लगता है। T+2 DAYS का मतलब ट्रेडिंग days प्लस 2 days अगर अपने transaction मंगलवार को किया है तो आपको अपने शेयर की वितरण गुरूवार को शाम तक  मिल जाएँगी। और जो seller है उसके Demat अकाउंट से शेयर गुरूवार सुबह मे डेबिट होंगे।


ट्रेडिंग अकाउंट अलग से खोल सकते है


आज के टाइम पे आप किसी भी Broker के पास एक साथ ट्रेडिंग और Demate अकाउंट खोल सकते हो। लेकिन अगर आपके पास किसी ब्रोकर का ट्रेडिंग और Demate अकाउंट नहीं है तो मेने एक आर्टिकल लिखा है स्टॉक ब्रोकर क्या है इस आर्टिकल को जरूर read कोरे इसमे मेने Top10 ब्रोकर का नाम भी बताये है आप उस मे से किसी को को चुन सकते हो।

लेकिन आपके मन मे ये सवाल जरूर आते होंगे क्या हम सिर्फ ट्रेडिंग या सिर्फ Demat अकाउंट खोल सकते है? हां आप बिलकुल खोल सकते है लेकिन ये करने से आपको कोई ज्यादा फायदा नहीं मिलता है। 

मान लीजे आपने सिर्फ ट्रेडिंग अकाउंट खोल लिया है तो जब आप शेयर buy और sell करेंगे तो आपको उसमे डिलीवरी कहा मिलेगी क्युकी अगर आप सिर्फ ट्रेडिंग अकाउंट खोल रहे है तो उसमे आप केबल future and options मे ट्रेड कोर सकते है जोकि केस मे सेटल होते है, इसके लिए आपको Demat अकाउंट की जरुरत नहीं पड़ती है।

अब बात करते है Demat अकाउंट की अगर आप सिर्फ Demat अकाउंट खोलते है तो शेयर की ट्रेडिंग कैसे करोगे, आप कोई IPO allotment ले रहे हो आपको उसको बेचना है तो आप बिना ट्रेडिंग के उसको बेच नहीं सकते। 

बहुत लोगो को ये भी सवाल होता है के इंट्राडे ट्रेडिंग मे हमको शेयर की डिलीवरी तो मिलता नहीं है तो उसके लिए क्या Demat अकाउंट चाहिए? हां SEBI के गाइडलाइन्स के अनुसार अगर आप इक्विटी मे ट्रेड कोर रहे है तो आपके लिए Demat अकाउंट होना mandatory है।

ट्रेडिंग अकाउंट के फायदे क्या है


  • सबसे बड़ी फायदा ऑनलाइन ट्रेडिंग के कारन आज आप दुनिया मे जहा से चाहे ट्रेडिंग कोर सकते हो। 
  • ऑनलाइन ट्रेडिंग के वजह से लिखित या कॉल करके आर्डर देने की कोई जरुरत नहीं है। आर्डर कुच सेकंड मे ही complete हो जाता है। 
  • ऑनलाइन ट्रेडिंग अकाउंट की सुबिधा से ब्रोकरेज चार्ज पहले के मुकाबले काफी कम हो गया। 
  • मार्जिन मनी की सुबिधा भी मिलती है।
  • शेयर buy और sell करना बिलकुल आसान हो गया।

आपको मेरा ये आर्टिकल ट्रेडिंग अकाउंट क्या होता है - trading account meaning in hindi कैसा लगा जरूर कमेंट करके बताये। अगर आपको कोई भी पॉइंट समझ नहीं आया तो आप वो भी कमेंट करके पूछिए मे उस सवाल का जबाब जरूर देंगे। 













Post a Comment

0 Comments