Right Issue क्या होता है - Right Issue Meaning In Hindi

Right Issue Meaning In Hindi

Right Issue क्या होता है - Right Issue Meaning In Hindi: नमस्कार दोस्तों आज में आपको बताऊंगा की राइट इश्यू क्या है और राइट इश्यू क्यों किया जाता है।

जब किसी कंपनी को अपने व्यापार को आगे बढ़ाने के लिये पैसों की जरुरत होती है तो वह कंपनी शेयर मार्किट में शेयर जारी करके पैसे उठाती है और उन पैसों से अपने व्यापार को आगे बढाती है। 

कोई भी कंपनी शेयर मार्किट से तीन तरीके से पैसा उठा सकती है 
  1. IPO (Initial Public Offer)
  2. Right Issue
  3. FPO (Follow On Public Offer)
जब कोई कंपनी पहली बार शेयर मार्किट से पैसे उठाती है तो उस प्रक्रिया को IPO कहते है। और दूसरी बार पैसा उठाने की प्रकिया को Right Issue कहते है। और तीसरी बार पैसा उठाने की प्रकिया को FPO कहते है। 

राइट इश्यू क्या है - Right Issue In Hindi: Right Issue एक तरीका होता है जिससे पहले से ही स्टॉक मार्किट मैं लिस्टेड एक कंपनी अपने ही निवेशकों से पैसा उठा सकती है जिसके बदले में वह कंपनी अपने निवेशकों को अतिरिक्त शेयर Discount Price पर देती है। Right Issue में निवेश करने का अधिकार उन लोगो के पास होता है जिन्होंने पहले से ही कंपनी में निवेश कर रखा हो। यानि जिन लोगों के पास में पहले से ही कंपनी के शेयर होते है केवल वही Right Issue में हिस्सा ले सकते है।

राइट इश्यू निवेशकों का अधिकार होता है जिसे उपयोग में लेकर वह कंपनी के शेयर सीधे कंपनी से और सबसे पहले Discount Price पर खरीद सकते है लेकिन यह कोई Obligation नहीं होता है। यदि निवेशक चाहे तो वह राइट इश्यू में हिस्सा ले सकते है। यह पूरी तरह स्वेच्छिक होता है।

राइट इश्यू के सम्बन्ध में ध्यान रखने योग्य बातें 

Right Issue में शेयर धारकों के पास पहले से ही मौजूद शेयर के अनुपात में ही नये शेयर जारी किये जाते है। राइट इश्यू में कोई निवेशक जितने चाहे उतने शेयर नहीं खरीद सकता है बल्कि कंपनी के द्वारा प्रत्येक शेयर धारक को दिये जाने वाले शेयर की संख्या निश्चित होती है। 

राइट इश्यू में शेयर डिस्काउंट पर मिलते है। 

Cum Right : Right Issue लाने से पहले कंपनी एक घोषणा करके अपने निवेशकों को यह बता देती है की वह भविष्य की कोनसी तारीख को Right Issue लाने वाली है। उस तारीख से पहले निवेशकों को Right Issue में शेयर पाने का अधिकार होता है। राइट इश्यू जारी होने से पहले की शेयर प्राइस को Cum Right Price कहते है। 

Ex Right: Right Issue में निवेशकों को शेयर आबंटित करने के बाद शेयर की प्राइस को EX Right Price कहते है। 

यह भी पढ़े:

Post a comment

0 Comments